ट्रेडिंग फॉरेक्स के लाभ

क्या क्रिप्टोकरेंसी खरीदनी चाहिए

क्या क्रिप्टोकरेंसी खरीदनी चाहिए

Cryptocurrency news in hindi: क्रिप्टो करेंसी कहा से ख़रीदे , क्रिप्टो करेंसी के नाम

क्रिप्टो करेंसी ( Cryptocurrency) एक डिजिटल करेंसी होती हैं , जिसको डिसेंट्रालाईजेसन सिस्टम के द्वारा मैनेज किया जाता हैं | क्रिप्टो करेंसी में प्रतेक लेन देन का डिजिटल सिगनेचर के ज़रिये वेरिफिकेशन होता हैं | क्रिप्टो ग्राफी के मदद से हमारी क्रिप्टोकरेंसी के लेन देन का रिकॉर्ड रखा जाता हैं | क्रिप्टो करेंसी को ब्लाक चैन टेक्नोलॉजी भी कहते हैं | यह ब्लाक चैन पर आधारित एक वर्चुअल करेंसी हैं , यह वर्चुअल करेंसी क्रिप्टो ग्राफी के द्वारा सुरक्षित रहती हैं |

क्रिप्टो करेंसी पीयर टू पीयर कैश सिस्टम हैं , जिसे कंप्यूटर अल्गोरिथम से डिजाईन किया गया हैं | इस करेंसी को कॉपी करना बिलकुल नामुमकिन है | इस करेंसी का फिजिकली कोई रोल नहीं हैं | यह करेंसी डिजिट के फॉर्म में ऑनलाइन रहती हैं | इस करेंसी की सबसे अहम् बात यह हैं, कि यह डिसेंट्रालाईज होती हैं | क्रिप्टो करेंसी पर किसी देश या सरकार का कोई नियंत्रण रहता हैं |

क्रिप्टो करेंसी के नाम:

आज कल हर कोई क्रिप्टोकरेंसी ( Cryptocurrency) के बारे में जानता हैं | लेकिन क्रिप्टो करेंसी के सबसे पहले बिटकॉइन (Bitcoin) हैं | लेकिन मार्केट में इसके अलावा कई ऑनलाइन करेंसी हैं |

  1. बिट कॉइन (bitcoin)
  2. एथेरयूम (Ethereum)
  3. रिप्पल (Ripple)
  4. तेथेर (Tether)
  5. मोनेरो (Monero)
  6. कॉसमॉस (Cosmos)
  7. पीयरकॉइन (Peer Coin )
  8. बिट टोरेंट (BitTorrent)
  9. नेमकॉइन (Namecoin)

क्रिप्टो करेंसी क्या हैं :

क्रिप्टो करेंसी एक डिजिटल करेंसी हैं , इसे हम बिटकॉइन के नाम से भी जानते हैं | बिटकॉइन का प्राइस इंडिया में बहुत ज्यादा हैं | क्रिप्टो करेंसी ब्लाक चैन के हिसाब से काम करती हैं | क्रिप्टो करेंसी को 2009 में संतोषी नकाम्तो ने बनाया था | बिटकॉइन एक डीसेंट्रलाइज्ड ओपनसोर्स ब्लाक चैन हैं |

क्रिप्टो करेंसी कहा से ख़रीदे:

हर ऑनलाइन business का एक प्लेटफार्म होता हैं , जहा से हम आसानी से चीजों को खरीद सकते है | क्रिप्टो करेंसी को खरीदने के लिए हमें बहुत से ऑनलाइन प्लेटफार्म मिल जाते हैं | जहा पर लॉग इन करने हम बिट कॉइन के शेयर को खरीद सकते हैं | इसे खरीदने के कई ऑपसन हैं , जैसे कि क्रिप्टोकरेंसी एक्सचेंज , डिजिटल करेंसी एक्सचेंज , कॉइन मार्केट और क्रिप्टो मार्केट हैं | ये सभी प्लेटफार्म पर आप आसानी से इन्वेस्ट कर सकते हो |

क्रिप्टो करेंसी एक्सचेंज के लिए क्रेडिट कार्ड , वायर ट्रान्सफर और अन्य डिजिटल प्लेटफार्म हैं | हम क्रिप्टो करेंसी को कागज़ी मुद्रा में आसानी से चेंज कर करते हैं | ऐसी कई वेबसाइट हैं , जहा से हम आसानी से क्रिप्टो करेंसी एक्सचेंज करते हैं |

क्रिप्टो करेंसी का भविष्य क्या हैं :

क्रिप्टो करेंसी का भविष्य बहुत अच्छा हैं क्यूंकि यह एक ऑनलाइन ट्रेडिंग सिस्टम हैं | यह करेंसी बहुत ही सिक्योर होती हैं , इसलिये क्रिप्टोकरेंसी ( Cryptocurrency) में ब्लाक की सिक्योरिटी और एन्क्रिप्शन का काम मायनर का होता हैं | इस करेंसी को नोट और कॉइन के रूप में नहीं बनाया गया हैं , लेकिन फिर भी इसकी वैल्यू मार्केट में बहुत हैं | क्रिप्टो करेंसी से आप इन्वेस्ट , ट्रेड और चीजों को आसानी से खरीद सकते हो | क्रिप्टो करेंसी एक प्रकार की डिजिटल करेंसी हैं |

cryptocurrency

10 फायदे Cryptocurrency के:

  1. क्रिप्टो करेंसी एक डिजिटल करेंसी हैं, इसकी हाई लेवल सिक्योरिटी होती हैं |
  2. हम क्रिप्टो करेंसी को आसानी से बेच और खरीद सकते हैं |
  3. क्रिप्टो करेंसी को बिट कॉइन के नाम से भी जानते हैं |
  4. क्रिप्टो करेंसी के लिए बैंक की आवश्कता नहीं होती हैं |
  5. यह इन्वेस्ट के लिए बहुत बढ़िया प्लेटफार्म हैं |
  6. इस करेंसी को किसी देश या गवर्नमेंट के द्वारा नियंत्रित नहीं किया जाता हैं |
  7. क्रिप्टो करेंसी एक सिक्योर करेंसी हैं |

कौन सी क्रिप्टोकरेंसी खरीदनी चाहिए:

क्रिप्टोकरेंसी ( Cryptocurrency) को मार्केट में काफी समय हो गया हैं | यह एक ऑनलाइन बिज़नस है , जहा से हम अपने पैसे को इन्वेस्ट कर सकते हैं | आज मार्केट में बहुत सारी ऑनलाइन करेंसी आ गयी हैं , जिस पर हम पैसे को इन्वेस्ट कर सकते हैं | मार्केट में हमें बिटकॉइन , एथेरयूम, रिप्पल और बिट टोरेंट जैसे क्रिप्टो करेंसी ट्रेडिंग के लिए मिल जाएगी | बिटकॉइन एक कंप्यूटर फाइल होती हैं , जो हमारे डिजिटल वॉलेट में स्टोर रहती हैं |

इस साल 20 22 में एथेरयूम करेंसी की कीमत बहुत अच्छी थी | जो ट्रेडिंग के लिए हमारे लिए बहुत सही थी | यह करेंसी बहुत सिक्योर होती हैं , जिसे क्रिप्टो ग्राफी के द्वारा सिक्योर रहती हैं | इसलिये इसे कोई चुरा या हैक नहीं कर सकता हैं |

भारत में क्या क्रिप्टोकरेंसी खरीदनी चाहिए बिटकॉइन का भविष्य :

बिटकॉइन एक प्रकार की वर्चुअल करेंसी हैं | यह एक ऐसी डिजिटल करेंसी हैं, जिसे कोई देख नहीं सकता हैं | यह ऑनलाइन करेंसी होती हैं जिससे बिटकॉइन को हम क्रिप्टोकरेंसी भी कहते हैं | बिटकॉइन को ऑनलाइन इलेक्ट्रॉनिक फॉर्म में सिक्योर करके रखते हैं | कई सालो में बिट कॉइन की डिमांड बहुत ज्यादा बढ़ गयी हैं | आप इसे किसी भी करेंसी में खरीद सकते हो जैसे कि रूपये , डॉलर , रियाल और दीनार ।

भारत में बिटकॉइन का भविष्य बहुत सही है | यह एक डिजिटल करेंसी होती हैं , जिसे आप आसानी से खरीद या बेच सकते हो | साल 2022 में क्रिप्टो करेंसी में कई नए नियम आये हैं | क्रिप्टो से होने वाले फायदे का हमें तीस परसेंट टैक्स और लेन देन का एक परसेंट टीडीएस कटेगा |

सबसे अच्छा Cryptocurrency 2022 में निवेश करने के लिए:

सबसे अच्छा क्रिप्टो करेंसी ( Cryptocurrency) में निवेश करने के लिए प्लेटफार्म बिट कॉइन, एथेरयूम, रिप्पल, मोनेरो , पीयरकॉइन ,बिट टोरेंट हैं | जिस पर जाकर आप आसानी से अपने पैसे को इन्वेस्ट कर सकते हो | यह एक ऑनलाइन डिजिटल बिज़नस हैं, जो बहुत सिक्योर होता हैं | निवेश करने के लिए सबसे पहले आपको इसमें अकाउंट बनाना पड़ेगा | इस डिजिटल करेंसी को आप अपने अकाउंट में आसानी से विथड्रा कर सकते हो |

  1. लकी ब्लाक (Lucky Block)
  2. सोलाना (Solana)
  3. बेसिक आटेंशन टोकन (Basic अटेन्शन token)

ब्लाक चैन टेक्नोलॉजी क्या हैं ?

ब्लाक चैन एक ऐसी टेक्नोलॉजी हैं, जिसमे डाटा को ब्लाक के फॉर्म में स्टोर किया जाता हैं | ब्लाक चैन टेक्नोलॉजी का उपयोग क्रिप्टोकरेंसी (Cryptocurrency) किया जाता हैं |यह एक ऐसी तकनीक हैं , जो हमारे डाटा और इनफार्मेशन को सुरक्षित रखता हैं | यह हमारे डाटा को ब्लाक के फॉर्म में इन्टरनेट पर स्टोर करता हैं | इसमें बहुत सारे ब्लाक की चैन होती हैं , जिसमे क्या क्रिप्टोकरेंसी खरीदनी चाहिए कई सारे ब्लाक होते हैं | हर ब्लाक एक क्रिप्टोग्राफ़िक कोड के द्वारा सेफ रहता हैं |

Conclusion:

मैंने इस ब्लॉग में क्रिप्टोकोर्रेंसी (Cryptocurrency) के बारे में जानकारी दी हैं | दोस्तों मेरे आर्टिकल को पूरा ज़रूर पढ़े और अपने दोस्तों को शेयर ज़रूर करे |

भारत में Bitcoin का फ्यूचर क्या है | Future of Bitcoin in India in Hindi

इस आर्टिकल हम जानेगे की bitcoin या यु कहो की क्रिप्टो करेंसी का भारत में क्या भविष्य है और भारत सरकार ,इस क्रिप्टो करेंसी को कब लागु करेगी तो क्या bitcoin सुरक्षित है क्या हमें bitcoin में निवेश करना चाहिए इन तमाम सवालो के जवाब हमने इस आर्टिकल के माध्यम से बताया है तो आइये जानते है भारत में Bitcoin का फ्यूचर क्या है.

Table of Contents

भारत में Bitcoin का फ्यूचर क्या है (Future of Bitcoin in India in Hindi)

दोस्तों भारत में अभी पूरी तरह क्रिप्टो को रेगुलेट नहीं किया गया है जब तक सरकार क्रिप्टो को लेकर कोई बिल पास नहीं करेगी और क्रिप्टो को लेकर कोई कानून नहीं बनाएगी तब तक bitcoin जैसे अन्य क्रिप्टो करेंसी भारत में लागु नहीं हो सकती है ,भारत सरकार क्रिप्टो करेंसी को लेकर काफी समय से विचार विमर्श कर रही है विशेषज्ञ की माने तो क्रिप्टो निवेश की द्रष्टि से इन्वेस्टर को फ़ायदा का सौदा साबित हो सकता है और अभी भारत में क्रिप्टो इन्वेस्टर की संख्या करोड़ो में है चुकी पूरी दुनिया में क्रिप्टो करेंसी यानि की bitcoin को Transaction और अन्य कामो के लिए इस्तेमाल किया जा रहा है.

भारत सरकार bitcoin को लागु क्यों नहीं कर रही :

भारत सरकार जब तक क्रिप्टो पर कोई कानून नहीं लती तब तक क्रिप्टो करेंसी भारत में लागु नहीं हो सकती क्योकि क्रिप्टो decentralize करेंसी है और इस करेंसी पर सरकार का कोई कण्ट्रोल नही होता है इस पर सरकार क्रिप्टो को लाने के पहले इसके भविष्य में होने वाले इस्तेमाल को लेकर विचार विमर्श करेगी तभी इसे पूरी तरह लागु करेगी.

telegram 1

क्या bitcoin सुरक्षित है :

bitcoin एक क्रिप्टो करेंसी है ना इसे छु सकते है ना ही देख सकते है यह एक डिजिटल करेंसी है यह नोट और सिक्के की तरह सॉलिड नहीं है बात करे bitcoin यानी की क्रिप्टो सुरक्षित है या नहीं तो आपको बता दे की क्रिप्टो का इस्तेमाल अन्य कई देशो में किया जा रहा है लेकिन देख जाये तो क्रिप्टो का इस्तेमाल गलत कामो के लिए इस्तेमाल किया जाता है और अच्छे कामो के लिए भी स्तेमाल किया जाता है और क्रिप्टो करेंसी को सुरक्षित माना गया है अगर कोई भी सरकार इस पर rules and regulation लाती है तो यह करेंसी सुरक्षित मानी जाएगी.

क्या है bitcoin की future value :

दोस्तों जब 2009 में क्रिप्टो करेंसी को लांच किया गया था तब इसकी किम्मत लगभग जीरो थी फिर इसकी किम्मत धीरे धीरे बढती गयी और आज 2021 और 2022 में 1 bitcoin की किम्मत लगभग 40 लाख के ऊपर है इसकी प्राइस वैल्यू कम ज्यादा होते रहती है लेकिन अगर इसके भविष्य की बात करे तो विशेषज्ञों का मानना है क्रिप्टोकरेंसी यानी की bitcoin की किम्मत बड़ने वाली है

क्रिप्टो करेंसी की इस दुनिया में कोई भी क्रिप्टो करेंसी उछाल ले सकती है जैसे की आपने देखा होगा दुनिया के सबसे आमिर इन्सान एलोन मस्क ने अपने ट्विटर अकाउंट में dogecoin का जिक्र किया तो बड़े बड़े इन्वेस्टर ने dogecoin में निवेश किया थे वैसे ही कोई भी क्रिप्टो करेंसी की किम्मत बड और घट सकती है.

Piotroski पियरोस्की स्कोर क्या है 4 1 1

क्या हमें bitcoin में निवेश करना चाहिए :

दोस्तों इस पूरी दुनिया में लगभग 5000 क्रिप्टो करेंसी है और करोडो लोग कोई ना कोई क्रिप्टो में कर रहे होते है क्रिप्टोकरेंसी में कुछ टॉप क्रिप्टोकरेंसी है जिनमे -bitcoin ,Ethereum ,cardano , binance , tether ,जैसे क्रिप्टो में लोग ज्यादा निवेश कर रहे है विशेषज्ञ की माने तो निवेशको में वैल्यू करेंसी में इन्वेस्ट करना चाहिए क्योकि यहाँ वोलाटिलिटी कम होती है जिससे निवेश को ज्यादा सुरक्षित माना जाता है हमारी राय यही होगी की आप bitcoin और Ethereum जैसे क्रिप्टो में निवेश कर सकते है कोशिस करे की जब क्रिप्टो की वैल्यू कम हो तब आपको निवेश करना सही रहेगा.

बिटकॉइन इतना महंगा क्यों है :

बिटकॉइन की किम्मत अभी 40 लाख के ऊपर है और अभी बिटकॉइन में गिरावट आई है क्योकि इसकी डिमांड कम हो गयी थी जैसे ही इसकी demand बढती है इसकी प्राइस भी बढती है जैसे आप जानते है बिजनेस में demand बढती है तो supply भी बढती है लेकिन बिटकॉइन के पुरे समय की बात करे तो इसकी demand बड़ी है क्योकि जब बिटकॉइन आया था तब इसकी किम्मत लगभग जीरो थी और आज 13 साल बाद 1 बिटकॉइन की किम्मत 40 लाख के पार पहुच चुकी है

यह ब्लाक चैन पर आधारित है जिसकी आने वाले समय में demand बहुत ज्यादा होने वाली है इसका उपयोग गलत कामो और अच्छे कामो में भी किया जाता है क्योकि इसका इस्तेमाल ब्लैकमनी, हवाला, ड्रग्स की खरीद-बिक्री, टैक्स चोरी और आतंकी गतिविधियों किया जाता है एसी बाते सुनने में आती रहती है अगर दुनिया के सारे transaction बिटकॉइन से होने लगे तो फ्यूचर में इसकी किम्मत करोड़ो में होगी.

Q : इंडिया की क्रिप्टो करेंसी कौन सी है?

Ans : इंडिया की कोई स्पेसिफिक क्रिप्टो करेंसी नहीं है

Q : कौन सी क्रिप्टोकरेंसी खरीदनी चाहिए?

Ans : जैसे की आप जानते है क्रिप्टोकरेंसी ने टॉप बिटकॉइन करेंसी ही है इसके साथ एथेरियम करेंसी भी दुसरे नंबर पर आती है ये 2 करेंसी में आप निवेश कर सकते है क्योकि इसकी demand फ्यूचर में बड़ने वाली है.

Q : सबसे सस्ती क्रिप्टो करेंसी कौन सी है?

Ans : सबसे सस्ती क्रिप्टो करेंसी शिबा इनु है जिसकी प्राइस अभी 0.002 है एक शिबा इनु की किम्मत है

Q : बिटकॉइन का मालिक कौन है?

Ans : बिटकॉइन का मालिक नहीं है यह ब्लाकचैन पर आधारित एक करेंसी है

Q : बिटकॉइन कौन से देश का है?

Ans : बिटकॉइन जापान की करेंसी है

Q : भारत में कितने क्रिप्टोकरेंसी निवेशक है?

Ans : भारत में अभी 10 करोड़ भारतीय निवेशक है जो क्रिप्टोकरेंसी में इन्वेस्ट किया है

चौंकिए मत: इस क्रिप्टोकरेंसी ने मचाया धमाल…45 रुपए से हुई 35 लाख, लोग पूछ रहे हैं क्या अब इसे खरीदना चाहिए?

टेस्ला के CEO एलॉन मस्क के ट्वीट के बाद क्रिप्टोकरेंसी को लेकर सोशल मीडिया पर एक नई बहस छिड़ गई है. कुछ लोगों का कहना है कि कीमतें जानबूझकर मैनुपुलेट की जा रही है.

चौंकिए मत: इस क्रिप्टोकरेंसी ने मचाया धमाल. 45 रुपए से हुई 35 लाख, लोग पूछ रहे हैं क्या अब इसे खरीदना चाहिए?

पिछले कुछ दिनों से क्रिप्टोकरेंसी पर काफी सवाल पूछ जा रहे हैं और ये टेस्ला वाले मालिक एलॉन मस्क जब-जब इस पर चर्चा करते हैं, क्रिप्टोमार्केट में भूचाल आ जाता है. कल यानी 13 मई को जब एलॉन मस्क ने ट्वीट करके ये कह दिया था कि उनकी कंपनी टेस्ला बिटकॉइन में भुगतान नहीं लेगी, तो बिटकॉइन की हालत खराब हो गई और ये 17 परसेंट टूट गया. यानी एक बिटकॉइन की कीमत यानी एक बिटकॉइन की कीमत 2 घंटे में ही 6.71 लाख रुपए कम हो गई. कीमत गिरने का असर ये हुआ कि गूगल में लोग सर्च करने लगे कि क्या उन्हें बिटकॉइन खरीदना चाहिए? यहां तक कि ट्विटर पर भी बिटकॉइन में खरीद-फरोख्त को लेकर काफी सवाल पूछे गए.

45 रुपए के बन गए 35 लाख

वैसे आपको बता दें कि बिटकॉइन वही करेंसी है जिसने 45 रुपए को 10 साल में 35 लाख रुपए बना दिया. 09 फरवरी, 2011 को बिटकॉइन की कीमत थी एक डॉलर और उस समय डॉलर करीब 45 रुपए का था. यानी 09 फरवरी को एक बिटकॉइन की कीमत थी तकरीबन 45 रुपए. और ठीक 10 साल बाद जब हम 09 फरवरी, 2021 में इसका भाव देखें तो एक बिटकॉइन 48,226 डॉलर का मिल रहा था, यानी करीब-करीब 35 लाख रुपए का. अब अगर निवेश के हिसाब से देखा जाए तो जिसने भी 2011 में एक बिटकॉइन 45 रुपए में खरीद लिया होता, उसके पास 10 साल बाद 35.13 लाख रुपए होंगे. यानी 10 सालों में 48,22,525 प्रतिशत का रिटर्न.

फिलहाल क्या प्राइस?

फिलहाल करीब एक बजे खबर लिखने के दौरान इस समय एक बिटकॉइन की कीमत चल रही है 49,785.00 डॉलर, यानी 36,51,408 रुपए. गुरुवार को यह एलन मस्क के ट्वीट के बाद दो घंटे में ही 54,819 डॉलर प्रति कॉइन से घटकर 45,700 डॉलर प्रति कॉइन तक आ गई थी.

क्या आगे बिटकॉइन खरीदना चाहिए?

इकोनॉमिक टाइम्स की एक खबर के मुताबिक, बिटकॉइन का कोई संस्थागत फ्रेमवर्क न होने के कारण इसके ऑपरेशनों को लेकर डर है. मतलब, क्योंकि कोई संस्था बिटकॉइन को नियंत्रित नहीं करती है, इसलिए बिटकॉइन की कीमतें बेहद वॉलेटाइल रहती हैं. कोई नहीं कह सकता है कि अगले पल इसकी कीमतें कहां होंगी. एक उदाहरण से समझें तो दिसंबर 2017 में बिटकॉइन के दाम 18,000 डॉलर से ज्‍यादा थे. दिसंबर 2018 में ये घटकर 3,200 डॉलर रह गए. इससे कई निवेशकों को भारी नुकसान हुआ. इसलिए इस समय सभी एक्सपर्ट्स बिटकॉइन में अपने रिस्क पर और सावधानी के साथ पैसे लगाने की सलाह देते हैं.

भारत में क्रिप्टोकरेंसी: वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण 2022

भारत में क्रिप्टोकरेंसी: वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण 2022 |_40.1

वर्ष 2018 में, वित्त मंत्रालय ने एक बयान जारी कर कहा था कि सरकार क्रिप्टोकरेंसी को कानूनी निविदा नहीं मानती है और क्रिप्टोकरेंसी के उपयोग को खत्म करने के लिए सभी उपाय क्या क्रिप्टोकरेंसी खरीदनी चाहिए किए जाएंगे। इसके तुरंत बाद भारतीय रिजर्व बैंक ने एक सर्कुलर जारी किया जिसमें कहा गया कि सभी बैंकों और सरकारी संस्थाओं को क्रिप्टोकरेंसी से जुड़े सभी पक्षों को किसी भी तरह की सेवाएं प्रदान करना बंद कर देना चाहिए।

2020 में, क्रिप्टोक्यूरेंसी के उपयोग की वृद्धि और उन्नति के साथ, इस परिपत्र को भारत के सर्वोच्च न्यायालय द्वारा वापस ले लिया गया था, जिससे बैंकों को क्रिप्टोकरेंसी से जुड़े पक्षों के साथ अपने लेनदेन को फिर से शुरू करने की अनुमति मिली। NASSCOM ने इस फैसले का स्वागत करते हुए ट्वीट किया और जल्द ही भारत में क्रिप्टोक्यूरेंसी ट्रेडिंग को बढ़ावा मिला।

भारत में सर्वश्रेष्ठ क्रिप्टोकरेंसी:

इन विशेषताओं को देखते हुए बिटकॉइन में वृद्धि की स्पष्ट संभावना है। बेशक, पारंपरिक मुद्राओं की तरह आभासी मुद्राओं का भी मनी लॉन्ड्रिंग और अन्य आपराधिक गतिविधियों के लिए उपयोग किया जा सकता है। हालांकि, संभावनाएं भौतिक दुनिया के समान हैं। जब हम क्रिप्टोकरेंसी पर चर्चा करते हैं तो सबसे पहला नाम बिटकॉइन का आता है। हालाँकि, कुछ और आभासी मुद्राएँ हैं जैसे Ethereum (ETH), Litecoin (LTC), Cardano (ADA), Polkadot (DOT), Stellar (XLM), Dogecoin (DOGE) आदि।

बिटकॉइन का इतिहास:

वर्ष 2009 में एक व्यक्ति या व्यक्तियों के समूह द्वारा उपनाम सतोशी नकामोतो का उपयोग करके बनाया गया था। बिटकॉइन को अब तक विकसित पहली क्रिप्टोक्यूरेंसी माना जाता है और वर्तमान में, प्रचलन में 18.5 मिलियन से अधिक बिटकॉइन टोकन हैं।

भारत में क्रिप्टोकरेंसी खरीदना:

भारत में क्रिप्टोकुरेंसी खरीदने के लिए, एक निवेशक को पहले क्रिप्टो एक्सचेंज खोजने के साथ-साथ क्रिप्टो (जैसे बिटकॉइन) के लिए एक तीसरे पक्ष के माध्यम से एक ऑनलाइन स्टोरेज विकल्प बनाना होगा। एक्सचेंज में निवेशक को एक्सचेंज सर्विस के जरिए एक्सचेंज अकाउंट बनाना होगा।

भारत में क्रिप्टोक्यूरेंसी एक्सचेंज:

विदेशी निवेशकों की तरह, भारतीय साथियों ने भी डिजिटल सिक्कों में अरबों डॉलर डाले हैं, क्रिप्टोक्यूरेंसी एक्सचेंजों की उपस्थिति के कारण, जो देश में क्रिप्टो उद्योग को फिर से आकार देने का लक्ष्य रखते हैं।

इनमें से कई ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म या ऐप, जो अपने ग्राहकों को क्रिप्टोकरेंसी में आसानी से व्यापार करने की अनुमति देते हैं, पिछले कुछ वर्षों में सामने आए हैं। उनमें से कुछ ने अब भारत में डिजिटल संपत्ति की लोकप्रियता का संकेत देते हुए, मंच पर व्यापार करने वाले लाखों से अधिक ग्राहक प्राप्त कर लिए हैं।

भारत में क्रिप्टोकरेंसी: वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण 2022 |_60.1

Frequently Asked Questions

Ques: क्या भारत में क्रिप्टोकुरेंसी कानूनी है?

Ans: भारतीय रिजर्व बैंक और भारत सरकार क्रिप्टोक्यूरेंसी को भारत में कानूनी निविदा के रूप में मान्यता नहीं देते हैं। हालाँकि, सरकार क्या क्रिप्टोकरेंसी खरीदनी चाहिए Cryptocurrency के लिए एक बिल पर काम कर रही है, लेकिन तब तक यह देश में वैध नहीं है।

Ques: भारत में कौन सी क्रिप्टोकरेंसी सबसे अच्छी है?

Ans: कोई सबसे अच्छी क्रिप्टोकरेंसी नहीं है, क्योंकि यह पूरी तरह से बाजार पूंजीकरण पर निर्भर करता है कि कौन सबसे अच्छा रिटर्न देगा। लेकिन कुछ शीर्ष प्रदर्शन करने वाली क्रिप्टोकरेंसी हैं, जैसे Bitcoin, Ethereum, Solana, Cardano, Tether, आदि।

Ques: भारत में कितनी क्रिप्टोकरेंसी हैं?

Ans: क्रिप्टोकरंसी के व्यापार और बिक्री के लिए सभी 15 घरेलू एक्सचेंज प्लेटफॉर्म हैं। भारत में अब दुनिया में सबसे ज्यादा क्रिप्टो ऑनर हैं।

Ques: क्या भारत में क्रिप्टो प्रतिबंधित है?

Ans: मार्च 2020 में, भारत के सर्वोच्च न्यायालय ने 2018 में भारत सरकार द्वारा लगाए गए क्रिप्टो मुद्राओं पर प्रतिबंध हटा दिया।

रेटिंग: 4.85
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 493
उत्तर छोड़ दें

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा| अपेक्षित स्थानों को रेखांकित कर दिया गया है *